मनुष्य जन्म को सार्थक करना है? तो रूहानियत की इन बातों पर करें अमल

Radha Soami- हम अपने इस मनुष्य जन्म को सार्थक कर सकते हैं। हम उस परमपिता परमात्मा को पा सकते हैं। बस  हमें कुछ रूहानियत की बातों पर अमल करना होता है। अगर हम उन रूहानियत के नियमों के अनुसार चलेंगे तो हम परमपिता परमात्मा को पा लेंगे और इस चौरासी के जेलखाने से आजाद हो सकते हैं।

क्या है रूहानियत के नियम जानें?
1. सबसे पहले अपने व्यवहार में सादगी बनायें रखें।
2. हर किसी व्यक्ति का सम्मान करें और सत्संग से जुड़े रहें।
3. कभी किसी का दिल ना दुखायें। प्यार और प्रेम बनाए रखें।
4. मुसीबत में एक-दूसरे व्यक्ति की मदद करें।
5. पूर्ण सतगुरु की खोज करें, उसके हुकुम में चलें
6. हक हलाल की कमाई करें, हक हलाल की कमाई पर गुजारा करें।
7. सतगुरु के बताए गए उपदेशों पर चलें। गलत संगति में ना बैठें।
8. किसी प्रकार का नशा ना करें। पराई स्त्री को बहन, माता, पुत्री के समान समझें।
9. किसी जीव की हत्या ना करें और उस परमपिता परमात्मा का ध्यान करें।
10. सतगुरु द्वारा प्राप्त नामदान से हम उस परमपिता परमात्मा को पा सकते हैं। इसलिए हमें उस नाम युक्ति का फायदा उठाना है। हर रोज बिना नागा भजन सुमिरन करना है।

Also read : सतगुरु परमात्मा और जीवों के बीच की कड़ी : बाबाजी

भजन सिमरन पर रखें ध्यान :

 
इसीलिए संत महात्मा समझाते हैं कि हमें ज्यादा से ज्यादा भजन सिमरन पर जोर देना चाहिए, ताकि हमारा इस मनुष्य जन्म में आने का मकसद पूरा हो जाए और उस परमपिता परमात्मा में समा जाएं। इसीलिए हमें सतगुरु के हुक्म में चलना है और रूहानियत की सभी बातों पर अमल करना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *